Holi Hai- Tips & Tricks ( Happy Holi to you all)

Hello my lovely beauties!!! How are you all? I hope you all are doing great. Holi is around the corner, I know you all are very excited about it, after all holi is the festival of beautiful vibrant colors.

होली रंगों का त्यौहार है, दोस्त रिश्तेदारों के साथ मस्ती करने और रंगों से खेलने का अपना अलग ही मज़ा है. होली की इस मस्त में आपको कुछ बातों का खास ख्याल रखने की जरुरत है. कुछ ऐसे ही टिप्स और ट्रिक्स मैं आपसे शेयर करने जा रही हु, जिसे नानकार आप अपनी होली को यादगार बना सकती है. 
 होली खेलते समय थोड़ी सावधानी और सतर्कता बरतें क्योंकि कई बार मस्त में अनजाने में अपनी स्किन हेयर को काफी नुकसान पंहुचा देते है. अगर आपके साथ बच्चे भी है तो और भी सावधानी रखनी पड़ेगी. 

होली खेलने जाने से पहले इन बातों का खास ख्याल रखे- 

सही कपडे- कपडे गहरे रंग के चुने जिससे गीले होने के बाद किसी तरह की शर्मिन्दिगी का सामना न करना पड़े. कपडे की क्वालिटी या उसका फेब्रिक भी थोड़ा मोटा ही चुने। कोशिश करें की फुल स्लीव की टॉप या कुरता पहने. जिससे आपकी स्किन ज़्यादा से ज़्यादा कवर रहे. 

 बाल - रंगों से बालों को सबसे से ज़्यादा नुकसान पहुचता है. ज़्यादा देर तक बालों में रंग लगे रहने से बाल और स्कैल्प दोनों ड्राई हो जाते है जिससे डेंड्रफ और इची स्कैल्प की शिकायत हो जाती है. कई मामलों में स्कैल्प में दानों की शिकायत हो जाती है. इससे बचने के सबसे सरल उपाय है बालों में हेयर आयल का इस्तेमाल. बालों खास कर जड़ों में तेल अच्छे से लगा ले, जिससे हेयर्स में कलर्स जाने पर भी आपके स्कल्प सुरक्षित रह सके.

त्वचा का खयाल- अपनी त्वचा को रंगों के प्रभाव से बचने के लिए, हाथों और चेहरे की त्वचा को अच्छे से moisturize करें इसके बाद सनस्क्रीन ज़रूर लगाए जो कम  से कम spf 50 हो.

कान का रखे खयाल -

होली में कान का खास खयाल रखें, होली में सूखे और पानी वाले रंगों दोनों से अपने कण बचाये इके लिए आप थोड़ा सा पेट्रोलियम वेसलीन अपने कान  के भाहरी हिस्सों में लगा ले, ये आप अपने बच्चे के कान में भी लगा सकती है. इससे रंग बहार ही चिपक जायेगा और काम से काम पानी वाला रंग आपके कण के भीतर जा पायेगा.  लोग पानी वाले गुब्बारों को एक दूसरे के ऊपर फेंकते है जिससे कानों में पानी जाने की संभावना होती है। इसलिए कानों का ध्यान रखते हुए होली खेलें।

नेचुरल या हर्बल रंगों का चुनाव - आजकल बाजार में हर्बल और नेचुरल गुलाल का चलन काफी बढ़ता जा रहा है जो पूरी तरह से सेफ और नेचुरल होते है, इनसे स्किन प्रॉब्लम काम होते है. बच्चों के लिए भी ऐसे रंग सेफ होते है. निचे कुछ वेबसाइट की लिंक है जहा से आप इन नेचुरल रंगों को खरीद सकती है. 


  1. http://www.amazon.in/Herbal-Gulal-Pouch-100Gms-Vedant/dp/B00ISBDM5I
  2. http://www.amaherbal.com/herbal-gulal-holi-color/
  3. http://www.amazon.in/Herbal-Scented-SILK-Gulal-Friendly/dp/B06XD7LK2S?tag=googinhydr18418-21&tag=googinkenshoo-21&ascsubtag=b15abd12-0f8b-4cda-a284-2db3be55f5bd

पानी की बर्बादी से बचे -  गर्मियों में पानी की समस्या साल दर साल बढाती ही जा रही है. कोशिश करे की सूखे रंगों का इस्तेमाल ज़्यादा करें सूखे रंगों को आसानी से धोया जा सकता है. अगर पानी का इस्तेमाल कर रहे है तो की बड़े टंकी या तब में रंग मिलाया जा सकता है. जिससे पानी की बर्बादी से बचा जा सके.

I hope you all like my tips and tricks, once again happy holi to you all.  


Comments

Popular Posts